आज का भजन
आज का पंचांग
आज का दर्शन




| हमारी संस्कृति
रावण की लंका की चमक को किसने किया फीका
श्रीकृष्ण के दर्शन के लिए महादेव क्यों बने साधु

लीला पुरुष श्रीकृष्ण जब भी कोई लीला रचते हैं, उसके पीछे कोई आदर्श विद्यमान रहता है। भगवान शिव के ....

"शेर क्यों है माता रानी की सवारी"

मां दुर्गा तेज, शक्ति और सामर्थ्‍य की प्रतीक हैं और उनकी सवारी शेर है। शेर प्रतीक है आक्रामकत....

"माता सीता ने क्यों निगला लक्ष्मण को"

एक समय की बात है मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम रावण का वध करके भगवती सीता के साथ अवधपुरी वापस आ गए ....

महाशिवरात्रि की पूजा का क्या है महत्त्व

शिवपुराण की कोटिरुद्रसंहिता में बताया गया है कि शिवरात्रि व्रत करने से व्यक्ति को भोग एवं मोक्ष द....

"क्यों किया भगवान विष्णु ने वृंदा के साथ छल"

श्रीमद्मदेवी भागवत पुराण अनुसार एक बार भगवान शिव ने अपना तेज समुद्र में फेंक दिया तथा इससे जलंधर ....

"क्यों मनाई जाती है वसंत पंचमी"

"क्यों मनाई जाती है वसंत पंचमी" 

बसंत पंचमी की कथा इस पृथ्वी के आरंभ काल से जुड़ी हु....

"क्यों लिया मां दुर्गा ने भ्रमरी देवी का अवतार"

अरुण नामक दैत्य ने कठोर नियमों का पालन कर भगवान ब्रह्मा की घोर तपस्या की। तप से प्रसन्न होकर ब्रह....

"क्यों कहा श्रीकृष्ण ने की अपनी मुसीबतों का सामना करो"

महाभारत काल की बात है। एक बार कृष्ण और बलराम किसी जंगल से गुजर रहे थे। चलते-चलते काफी समय बीत गया....

सत्यभामा ने श्रीकृष्ण को क्यों तौला ?

भगवान श्रीकृष्ण की पत्नी सत्यभामा के मन में एक दिन एक विचित्र विचार आया। उन्होंने तय किया कि वह भ....

"जानिए कैसे करें संकष्टी गणेश चतुर्थी की पूजा"

संकष्टी चतुर्थी माघ मास के कृष्ण पक्ष में आने वाली चतुर्थी को कहा जाता है। वर्ष 2018 में 5 ....

| कथाएं
श्रीमद्भागवत कथा - पूज्य महेश गुरु जी - दिन 1
प्रेम करो कृष्णा - श्रद्धेय नन्दू भैया जी
प्रेम करो कृष्णा - श्रद्धेय नन्दू भैया जी
श्रीमद्भागवत कथा - पूज्य संजय कृष्ण "सलिल" जी - दिन 5
श्रीराम कथा - पूज्य मुरलीधर जी महाराज - दिन 9
| प्रवचन
अमृत वचन - सुधांशु जी महाराज || एपिसोड 1
प्रवचन सरिता - अवधेशानंद गिरि जी ॥ एपिसोड 2
देवी भागवत कथा - साध्वी ऋतंभरा || भाग 03
प्रवचन सरिता ॥ एपिसोड 1
देवी भागवत कथा - साध्वी ऋतंभरा || भाग 02
| भजन
श्यामा प्यारी दया कीजिए - आस्था लूथरा
आंखों में कजरा, होठों पर बंसी – अनिशा झंवर
श्यामा जोगियां दा भेष - संध्या ढींगरा
सांवलिया मेरा मन भा गया - गुलशन अग्रवाल
कानूड़ा लाल घड़ियो म्हारो


© 2017 Sanskar Info Pvt. Ltd.
All rights reserved | Legal Policy
कार्यक्रम विवरण | हमारे बारे में | संपर्क